WELCOME TO SikhoIndia.IN >>Dear All, Wish U And Your Family A Very Happy Fastival<<< TODAY’S BEST OFFERS DEALS COUPON CODE & DEAL OF THE DAY .

Ganne ka ras Pine ke Fayde : गन्ने के रस पीने से होने वाले फायदे व नुकसान

No Comments

Ganne ka ras Pine ke Fayde : गन्ने के रस पीने से होने वाले फायदे व नुकसान 


गन्ने के रस पीने से जड़ से खत्म हो जाते हैं यह 3 रोग

गन्ने के जूस में वह तमाम तत्व मौजूद होते हैं जो आपके शरीर के लिए बेहद जरूरी होते हैं तो इसका सेवन आपको रोजाना नियमित रूप से जरूर करना चाहिए ।गन्ने का रस बहुत ही सेहतमंद और गुणकारी पेय है. इसमें कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन, मैग्नेशियम और फॉस्फोरस जैसे आवश्यक पोषक तत्व पाए जाते हैं. इनसे हड्डि‍यां मजबूत बनती हैं और दांतों की समस्या भी कम होती है. गन्ने के रस के ये पोषक तत्व शरीर में खून के बहाव को भी सही रखते हैं. वहीं इस रस में कैंसर व मधुमेह जैसी जानलेवा बीमारियों से लड़ने की ताकत भी होती है.
Ganne ka ras Pine ke Fayde : गन्ने के रस पीने से होने वाले फायदे व नुकसान

गन्ने के रस के फायदे
·        जिन लोगों को भी पाचन संबंधित समस्याएं हैं जैसे गैस और एसिडिटी तो वह लोग रोजाना गन्ने के जूस का सेवन करें और यह समस्या जड़ से खत्म हो जाएगी ।
·        एक रिसर्च के द्वारा यह पता लगाया गया है कि गन्ने के जूस में मौजूद तत्व कैंसर सेल्स को पनपने नहीं देते हैं और कैंसर की बीमारी नहीं होती है
·        गन्ने का जूस रोजाना पीने से पथरी की समस्या भी जड़ से खत्म हो जाती है तो इसका सेवन जरूर करें ।
·        इनमे एंटी-वाइरल , एंटी-एलर्जिक , एंटी-ट्यूमर जैसे गुण होते है अतः गन्ने का रस पीने से एंटीऑक्सीडेंट का बहुत लाभ मिलता है। ये फ्रीरेडिकल का सन्तुलन बनाये रखने में मदद करते है तथा उम्र के प्रभाव और कैंसर आदि रोग से बचाव करते है। इस प्रकार ह्रदय , गुर्दे , दिमाग तथा प्रजनन अंगों को होने वाले नुकसान से बचाते है।
·        पीलिया रोग में गन्ने का रस पीना लाभदायक होता है। इसके उपयोग से पीलिया जल्दी ठीक होने में मदद मिलती है तथा लीवर को ताकत मिलती है। यह आसानी से हजम हो जाता है और थकान मिटाता है।

गन्ने के रस के नुकसान 
गन्ने के जूस की सेहत उसके दुकान से भी तय होती है। यदि आप गंदी दुकानों से गन्ने का जूस पीयेंगे तो यह उतना लाभकर नहीं होगा जितना गन्ने का जूस होता है। गन्ने का जूस पीते वक्त दुकान की साफ सफाई का ध्यान रखें। कहीं दुकान में बहुत ज्यादा मक्खियां तो नहीं भिन भिना रहीं। अगर ऐसा है तो ऐसे दुकानों से गन्ने का जूस पीने से बचें।

·        गन्ने का रस शक्कर का ही पहला रूप है। जिस प्रकार शक्कर से मोटापा बढ़ता है उसी प्रकार इसमें मौजूद कैलोरी वजन बढ़ा सकती है।अतः अधिक मात्रा में गन्ने का रस पीने से वजन बढ़ सकता है। इसलिए उचित मात्रा में ही इसका उपयोग करना चाहिए।

·        बाजार में मिलने वाला गन्ने का रस यदि सफाई के साथ नहीं निकला हुआ हो तो इसके कारण बीमारी के शिकार हो सकते है। 

·        बाजार में गन्ने का रस पी रहे है तो देख लेना चाहिए की गन्ना अच्छी तरह धुला हुआ हो। उस पर धूल मिट्टी आदि ना हो। रस में मिलाये जाने वाला बर्फ अच्छा होना चाहिए।

·        इसमें शुगर की अधिक मात्रा होने के कारण डायबिटीज वाले लोगों को सावधानी पूर्वक चिकत्सक से परामर्श के बाद ही इसका उपयोग करना चाहिए।

·        गन्ना निकालने की मशीन पर गन्दगी हो सकती है या कभी कभी मशीन से तेल रिस कर रस में गिर सकता है। जो नुकसान देह हो सकता है। अतः ध्यान रखें।

·        बहुत देर पहले पहले निकला हुआ गन्ने का रस ख़राब हो जाता है। इसमें नुकसानदेह टॉक्सिन पैदा हो जाते हैं अतः उसे नहीं पीना चाहिए।



chitika

loading...
loading...